Wednesday, November 03, 2010

शुभ दीपावली ....

कामना करता हूँ की आपकी दीपावली मंगलमय हो !!!

Tuesday, November 02, 2010

निशब्द ...

कभी कभी 
कुछ कहना कितना मुश्किल  होता है 
शब्दों की गांठ बंधना 
आसान कहाँ ||
इन शब्दों में 
पिछलन गजब की है 
इनके उलझनों को सुलझाना 
आसान कहाँ ||
अच्छा है अहसास 
मूक ही रहें 
इन्हें शब्दों की कमीज पहनना 
आसान कहाँ ||


Random thoughts ...

Random thoughts ... क्यू गुमसुम सी रहती हो , हवाओं की तरह , लहराओ न कभी । उङ जाती हो पलक क्षपकते ही , साथ आओ न कभी ।। कुछ लम्हों की...